वशीकरण

पति वशीकरण


ॐ नमो महायक्षिण्ये मम पति में वश्यं कुरू कुरू स्वाहा।

यह मंत्र एक लाख बार जाप करने से सिद्ध हो जाता है। पति को वश में करने के लिए प्रतिदिन 108 बार जाप करने से पति पत्नी के वशीभूत हो जाते हैं।

मंत्र
ॐ नमो महायक्षिणी मम पति दश्य मानय कुरू स्वाहा ।
इस मंत्र को पहले एक हजार बार जपकर सिद्ध कर लेना चाहिए। फिर स्त्री गुरुवार के दिन केले का रस, सिंदूर और अपनी योनि का रक्त मिलाकर सात बार उपरोक्त मंत्र से अभिमंत्रित कर मस्तक पर बिंदी लगाने से पति वश में हो जाता है।

मंत्र
ॐ हीं श्रीं क्रीं थिरिं ठः ठः अमुकं वश करोनि ।
यह मंत्र दस हजार बार जाप करने से सिद्ध हो जाता है। शुक्ल पक्ष की प्रथमा तिथि को गोरैया पक्षी के मांस को मंत्र से अभिरमंत्रित कर थोड़ा-सा पान में रखकर पति को खिलाने से वह एक क्षण के लिए भी पत्नी से दूर नहीं रहता है।

नीबू से करे सम्भोग वशीकरण

नीबू से करे सम्भोग वशीकरण


नींबू पर लाल स्याही से नामः जिस किसी व्यक्ति को आप आकर्षित करना चाहते हैं उसके वशीकरण के लिए एक पीला नींबू के साथ सोमवार की रात को टोटका करें ।

पीले रंग का आसन विछाएं। उस पर बैठने के बाद लाल स्याही कलम से पीले नींबू पर उस व्यक्ति का नाम लिखें जिसे वशीकरण करना चाहते हैं।

नाम लिखने के बाद नींबू को अपने दाये हाथ में लेकर दिए गए मंत्र का जाप करें ।

यहं अमूक शब्द की जगह वशीकरण किए जाने वाले का नाम उच्चारित करें।

मंत्र : ओम विवशु त्रिव्स नब्वस क्वेर रयि अमुक

नग्दस मब्स्जद ह्री ह्रीं नमो!

मंत्र का जप आपको 208 बार करना होगा | उसके बाद आप नीबू को काट दे और चौराहे पर जाकर दबा दे | इस वशीकरण विधि का आप गलत प्रयोग बिलकुल भी न करे |

यदि आपको वशीकरण के बारे में कोई भी जानकारी चाहिए तो आप शास्त्री जी से शीघ्र संपर्क करे |