वशीकरण

पति वशीकरण


ॐ नमो महायक्षिण्ये मम पति में वश्यं कुरू कुरू स्वाहा।

यह मंत्र एक लाख बार जाप करने से सिद्ध हो जाता है। पति को वश में करने के लिए प्रतिदिन 108 बार जाप करने से पति पत्नी के वशीभूत हो जाते हैं।

मंत्र
ॐ नमो महायक्षिणी मम पति दश्य मानय कुरू स्वाहा ।
इस मंत्र को पहले एक हजार बार जपकर सिद्ध कर लेना चाहिए। फिर स्त्री गुरुवार के दिन केले का रस, सिंदूर और अपनी योनि का रक्त मिलाकर सात बार उपरोक्त मंत्र से अभिमंत्रित कर मस्तक पर बिंदी लगाने से पति वश में हो जाता है।

मंत्र
ॐ हीं श्रीं क्रीं थिरिं ठः ठः अमुकं वश करोनि ।
यह मंत्र दस हजार बार जाप करने से सिद्ध हो जाता है। शुक्ल पक्ष की प्रथमा तिथि को गोरैया पक्षी के मांस को मंत्र से अभिरमंत्रित कर थोड़ा-सा पान में रखकर पति को खिलाने से वह एक क्षण के लिए भी पत्नी से दूर नहीं रहता है।

नाम से वशीकरण असर होगा 3 घंटो में

नाम से वशीकरण असर होगा 3 घंटो में


नाम बोलते ही होगा उसी वक्त असर:

ध्यान देने की बात यहाँ यह भी है कि हमारे गुरु जी, वशीकरण विशेषज्ञ ज्योतिषी शास्त्री , सुरक्षित और परोपयोगी

वशीकरण और ज्योतिष के क्षेत्रोँ में भारत के एक विश्वविख्यात व्यक्ति हैं, जो इन विषयों के उपयोग से जीवन की लगभग सभी समस्यायों समाधान करते है ||

एक सफेद रंग का कागज ले और उस कागज पर आप अपने प्रियजन का नाम लाल पेन से लिखे और साथ में एक मोर का पंख भी रखे |

फिर आप इस कागज को फोल्ड कर दे | कागज को फोल्ड करने के बाद आप आप मंत्र का जाप करे | |

“ओम हारीम कुरूम पिसचिनी (इच्छित व्यक्ति का नाम ) मं वशियम भवन्ति

“फिर आप इस कागज को किसी गुप्त जगह पर रखना होगा |

फिर आप इसे सात दिन के बाद अपने ही घर में किसी शान्त जगह पर देसी घी से जला दे ना है |

ऐसा करने से वो व्यक्ति आपके वश में हो जायेगा | अन्य जानकारी के लिए शास्त्री जी से समपर्क करे | |