सांप की केंचुली क्या है, इसके फायदे, लाभकारी टोटके


मित्रों इस लेख में आपका स्वागत है आप सभी सांप की केचुली (saanp ki kenchuli) को तो जानते ही होंगे यह सांप की उपरी परत होती है जिसे सांप उतार देता है सांप की केंचुली वसंत के दिनों में अत्यधिक देखने को मिलती है वृद्ध सांप अपने केंचुली को वर्ष में दो बार निकलते हैं और जो युवा सांप होते है वे साल में 3 से 4 बार अपने केंचुली को निकालते है।

विश्व में 2500 सांपो की प्रजातियां पाई जाती हैं जिनमें से 500 प्रजातियां ही जहरीली है और भारत में 300 प्रकार के सांप पाए जाते हैं जिनमें से लगभग 50 प्रजातियां ही जहरीली है। 70 प्रतिशत सांप अंडे देते हैं और 30 प्रतिशत सांप बच्चे देते हैं। सांप की आयु लगभग 120 साल होती है।

सांप इतने जहरीले नहीं होते हैं जितने लोगों द्वारा भ्रांतियां फैलाई गई है, सांप सुनते नहीं है आपने देखा होगा कि सांप को सपेरे बीन बजाकर नचाते है सांप सिर्फ बीन के इशारे को देखकर हिलता है वह सुनता नहीं है उसके कान बंद होते हैं। सांप दूध नहीं पीता है भूखा रखने से उसे दूध पिलाया जाता है ये कुछ भ्रांतियां है जो सपेरे खाने कमाने के लिए करते हैं

सांप कांचली क्यों उतरता है – saanp ki kenchuli ke totke

सांप अपने केंचुली को इसलिए उतारते हैं जिससे यह अपने अंदर रहने वाले परिजीवियों से बच सकें। इनके अंदर एक खास बात यह भी होती है कि इनकी त्वचा मानवों जैसी नहीं होती है जो रोजाना बढ़ती रहे इनकी त्वचा बढ़ने की दर निश्चित होती है और उस विकास के पश्चात इनकी त्वचा का विकास नहीं होता।

सांप के केंचुली छोड़ने से पहले उसके शरीर के निचले हिस्से में त्वचा आ जाती है इसके पश्चात वह अपनी पुरानी त्वचा का त्याग करता है। इनकी केंचुली को दूर से देखने पर ऐसा प्रतीत होता है जैसे वह सांप ही है क्योंकि इनकी कांचली इनकी ऊपरी परत होती है इसलिए यह सांप जैसी ही लगती है।

सांप अपनी केंचुली कैसे निकालता है – saanp ki kechuli ke upyog

जब सांप अपनी त्वचा को बदलने हेतु पूर्ण रूप से तैयार हो जाता है तब वह अपनी परत को ढीला करने हेतु अपने मुख के पास से एक चीर का निर्माण करता है जो उसे परत को बदलने में सहायता प्रदान करता है। ये चीर पहाड़ी इलाकों या किसी खुरदार चीजों से रगड़कर बनाते हैं और एक बार पुरानी त्वचा निकलने के पश्चात ये नई त्वचा को धारण करते है।

मित्रों सांप एक ऐसी प्रजाति है जिसे अपने त्वचा को खुद बदलना पड़ता है यह इनके लिए अतिआवश्यक होता है मनुष्यों की त्वचा अपने आप बदलती हैं और वह धीरे धीरे एक एक स्थान से होकर बदलती है लेकिन इनकी त्वचा पूरे शरीर में एक साथ बदलती है इसलिए आपको इनकी पूरी केचुली देखने को मिलती है।

सांप को केचुली निकालने में होती है परेशानी – saanp ki kenchuli

जो सांप पालक हैं वे इनकी केंचुली निकालने में इनकी पूरी सहायता करते हैं और वे सांप जो वन में होते हैं उन्हें उनकी केंचुली निकालने में अधिक परेशानी झेलनी पड़ती है अगर कांचली निकालते समय केंचुली इनकी आंखों के पास जमा हो जाए तो ये अंधे भी हो सकते हैं और एक अंधा सांप मेरे हुए सांप के बराबर होता है।

कैसे पता करें कि सांप केंचुली छोड़ने वाला है :- saanp ki kechuli ke upay

अगर आप सांप को ध्यानपूर्वक देखेंगे तो आप पता लगा सकते हैं कि सांप केंचुली छोड़ने वाला है इनके कुछ ऐसे लक्षण है जिनके माध्यम से पता लगाया जाता है कि ये कांचली छोड़ने वालें हैं।
वह खुरदरी जगह पर अपने आपको रगड़ता है।
खाना कम खाता है या इस दौरान वह खाना खाता ही नहीं है।
सांप अपने आपको छिपाने की कोशिश करता यदि आप सांप पालक है तो इस समय वह काफी छिपता है।
त्वचा सुस्त व धुंधली दिखाई देने लगती है इस समय सांप का पेट गुलाबी रंग जैसा दिखाई देता है
इस समय सांप की आंखे धुंधली दिखाई देने लगती है इसके अलावा सांप के आंख के आसपास की त्वचा ढीली हो जाती है जो इशारा करता है कि सांप अपनी केंचुली छोड़ने वाला है।
इस समय उसे ढंग से दिखाई नहीं देता है।
जहां पर सांप पाला जाता है पालक सांप को खुरदरी चट्टान के पास रखते हैं जिससे सांप आसानी से अपने केंचुली को उतार सके।
ऐसे समय में सांप को अधिक नमी कि आवश्यकता होती है इसलिए इस दौरान सांप नमी वाले वातावरण में अधिक समय बिताते हैं।
जब सांप अपनी केंचुली को निकाल देता है तो ऐसे समय में उसकी नई त्वचा नाजुक होती है ऐसी अवस्था में कभी कभी इसे चोट भी लग जाती है।
सांप की कांचली से सांप की जाति का पता लगाया जा सकता है इसके अलावा इसके अंदर की सलवटों से भी पता लगाया जा सकता है।
यदि सांप अपनी त्वचा पूर्ण रूप नहीं बदल पाता है तो समस्या उसके निवास स्थान में हो सकती है या उसका स्वास्थ्य खराब हो सकता है।
सांप अपनी केंचुली उतारने के बाद एकदम ताज़ा महसूस करता है शिकार पूरी फुर्ती से करता है उसके अंदर नई ऊर्जा का संचार हो जाता है उसका केंचुली उतारना उसके नवजीवन की शुरुआत होती है ऐसा करने से उनके लेकिन इससे इनका उम्र कम नहीं होता बल्कि इनके उम्र में बढ़ोत्तरी होती है। ऐसा करने से इनके शरीर में काफी चमक आ जाती है।
सांप के केंचुली उतारने का बड़ा कारण यह भी है कि जब इन्हें अंदरुनी रोग होता है तब भी ये उससे छुटकारा पाने हेतु अपने कांचली को उतारते है।

सांप की केंचुली के टोटके – (saanp ki kanchli se totka)

(1) नकारात्मक शक्ति को दूर करने हेतु :- (saanp ki kenchuli ke totke)

सांप की केंचुली नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने में अत्यधिक लाभदायक है नाग पंचमी के दिन सिद्ध सांप की केंचुली को घर में स्थापित करने से घर में रहने वाली सभी नकारात्मक शक्तियों से मुक्ति प्राप्त होती है। इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि सांप की केंचुली सिद्ध होनी आवश्यक है नहीं तो यह कोई की नहीं करेगा।

अगर आप चाहें तो हमारे नवदुर्गा ज्योतिष केंद्र से कम कीमत में सांप की केंचुली खरीद सकते हैं जो की आपको मात्र 251₹ में मिल जाएगा (डिलेवरी फ्री)

(2) धन प्राप्ति हेतु सांप की कांचली (saanp ki kechuli ke fayde)

मित्रों प्राचीन काल से ही ऐसा माना जाता है कि सांप कि कांचली को सोने या चांदी के सिक्के के साथ चंदन कि लकड़ी के बॉक्स में रखा जाएं तो घर में धन की समस्याएं दूर हो जाती हैं धन के आने के अनेकों मार्ग उत्पन्न होते हैं इसके अलावा कर्ज दूर होता है।

यदि आपके घर में धन अधिक आता है लेकिन धन घर में स्थिर नहीं होता तो ऐसी स्तिथि में आप यह उपाय कर सकते हैं इससे आपको अधिक लाभ प्राप्त होगा।

(3) भूत प्रेत बाधा से बचाव (saanp ki kechuli ke totke in hindi)

सांप की केंचुली को पीसकर उसमें वच, हींग तथा सूखी नीम की पत्तियों के मिश्रण को गाय के ऊपले पर डालकर लोहबान, गूगल का भी मिश्रण मिलाकर घर में मंगलवार से मिट्टी के सकोरे पर रखकर घर में इस धूमनी को घुमाएं। ऐसा करने से भूत-प्रेत व अन्य सभी बाधाएं दूर हो जाएंगी।

मित्रों अगर आप भूत, प्रेत, जिन्न आदि से परेशान हैं और आप इसे ठीक करने हेतु काफी पैसा फूंक चुके हैं और अभी भी आप परेशान हैं तो ऐसी स्तिथि में आप हमारे नवदुर्गा ज्योतिष केंद्र से भूत प्रेत निवारण ताबीज मंगा सकते हैं जिसे धारण करने मात्र से ही आपको आराम प्राप्त होगा जिसकी कीमत हमने जनकल्याण हेतु बहुत कम रक्खी है। ताबीज मात्र : 251₹

(4) हमेशा के लिए नजर से बचने हेतु :- (saanp ki kechuli ka upyog)

सांप की कांचली नजर उतारने में बहुत लाभकारी है अगर आपके घर में किसी को नजर लग गई है तो आपको अंजन, इलायची, दो लौंग और गूगल और लोबान लेना है और उसमें सांप कि केंचुली मिलाकर किसी खीरे पर डाल देना है इसके पश्चात 7 बार नजर उतारना है और उसे एक तरफ फेंक देना है। ऐसा करने के पश्चात नजर लगना ही दूर हो जाएगा और आप एक आनंदमय जीवन का आनंद ले सकेंगे।

सांप की केंचुली के फायदे – (saanp ki kechuli ke fayde)
आंखो के लिए फायदेमंद :-

दोस्तों कई बार आंखे दुखने लगती है ऐसी स्तिथि में सांप की केंचुली (saanp ki kenchuli ke upay) अत्यंत लाभदायक है इसे आंखो में फिराने से आंख दुखना बंद हो जाता है ये सभी ज्योतिष उपाय है जो आप करके लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s